Internet कैसे काम करता है ? Internet Kya In Hindi ? What is Internet in Hindi ?

Post a Comment

Internet कौन नहीं इस्तेमाल करता है। आप भी इस्तेमाल करते होंगे और में अभी इंटरनेट का इस्तेमाल कर यह आर्टिकल लिखने के लिए। लेकिन क्या आपको पता है की Internet kya hai नहीं ! आपको जरूर नहीं पता इसलिए तो आप गूगल पर सर्च कर इस आर्टिकल को पढ़ने आये है। तो फिर बने रहे इस आर्टिकल पर जानने के लिए Internet kya hai in Hindi ?.

📑Table Of Content



Internet Kya Hai in Hindi ? 

Interconnected Network

Internet का मतलब Interconnected Network जिसका मतलब होता हो बहुत सरे devices का एक साथ जुड़ना devices जैसेकि computer, mobile, router, का एक साथ जुड़ना। Devices को एक साथ जोड़ने का उदेश है data का लें दें करना। Data यानि files को एक साथ स्टोर कर रखना data अलग-अलग तरह के होते है जैसेकि Audio Visual data, Text Data etc.

Internet का इतिहास (History of the Internet)

इन्टरनेट की खोज ARPA (Advanced Research Project Agency) द्वारा किया गया है। जिसे 1969 में नियुक्त किया गया था। ARPA ने सबसे पहले चार कंप्यूटर का नेटवर्क बनाया और उन कंप्यूटर से data का लें दें किया। उसके बाद बहुत सारी universities को भी data को लें दें करने के लिए कहा गया और यह Internet की सबसे पहली शुरुवात थी।  

तो अपने यह तोह जान लिया की Internet क्या है और उसका इतिहास भी लेकिन आपको यह प्रश्न जरूर आता होगा की Internet काम या चलता कैसे करता है ? 

Internet काम कैसे करता है ? How does Internet Works ?  

जैसेकि आप यह तोह जान ही चुके होंगे की Internet में data का लें दें होता है। लेकिन Internet में data का लें दें कैसे? Data का लें दें एक केबल जिसका नाम optical Fibre होता है उसे data का लें दें किया जाता है।

Optical Fibre को underground बिछाया जाता है। Optical Fibre को ocean के जरिये बिछाया जाता है और जैसेही ocean ख़तम होता है fibre को country के underground में बिछाया जाता है। Optical Fibre data को light के जरिये transfer करता है।  Data को light के जरिये से transfer कियस जाता जिसके कारण internet की speed ज्यादा होती है क्युकी light की speed बहुत ज्यादा होती है।

 

इंटरनेट को वहीं यूज़ किया जा सकता है। जहा optical Fibre cables हो। बिना Optical Cable पहुंचे इंटरनेट का यूज़ नहीं किया जा सकता।

लेकिन Data स्टोर कहा किया जाता है ?

Server


Data को Server में store किया जाता है और server और कुछ नहीं बल्कि CPU ही होता है। Server कुछ इस तरह काम करता है डाटा पचुचाने के लिए। जैसे आप कोई भी चीज़ को इंटरनेट पर चलते है तो server पर request जाती है और server के पास जोभी data होता है वो आप तक पहुँचता है।    

छोटे डाटा को आसानी से store किया जा सकता है। लेकिन ज्यादा data को store करने के लिए बड़ी companies द्वारा data center बनाये जाते है। बड़ी company जैसे google जो अपना data को data center में store रखती है। 

लेकिन यह डाटा आप तक सही तरह से कैसे पहुँचता है ?

IP Adress

यह सुनिश्चित करने के लिए की आप तक डाटा पहुंचे इस के लिए IP Address का इस्तेमाल की जाता है। IP Address क्या है ? IP Address एक unique address है जोकि हर एक device का एक अलग IP address होता है। जैसे हर एक वयक्ति का अलग address होता है। IP Address की मदद से पता लगाया जाता है की कोनसे डिवाइस इंटरनेट का यूज़ किया जा रहा है। 

 IP Address मतलब "Internet Protocol"होता है जोकि एक rule है जिसे follow किया जाता है data को send करने के लिए। यह 32 bit number में होता है। जिसमे सरे नंबर decimal form में होते है। और यह दो तरह के होते है। एक होता है Public IP और दुरसा Private IP  Public IP वो IP होते है जिसमे इंटरनेट का यूज़ DSL modems द्वारा किया जाता है। Private IP वो IP होते है जिसमे इंटरनेट का इस्तेमाल router किया जाता है। 

हर Device का एक अलग IP Address होता है वैसिही हर एक server का एक अलग IP Address होता है। और Server को रिक्वेस्ट भेजने के लिए हमें IP Address का याद होने जरुरी है। क्युकी इसे याद रखना मुश्किल होता है। इसलिए इसकी जगह Domain name का यूज़ किया जाता है। 

Domain name की मदद से आप कोई वेबसाइट को आसानी से यूज़ सकते है और सर्वर को आसानी से request कर सकते है अब तक data पहुंचने के लिए। 

हर वेबसाइट का अलग domain होता है। और इस चीज़ सुनि कोश्चित करने के लिए domain सिर्फ एक बार यूज़ किया जाये। इस चीज़ को ICANN नामक company द्वारा संभाला जाता है। 

Server द्वारा डाटा कभी भी पूरा नहीं दिया जाता है बल्कि डाटा को parts में भेजा जाता है और इस चीज़ को Data Packets कहते है। 

Attenuation 

Low Signal
Data का signal कभी-कभी कमजोर हो जाता है और इसी data के low signal को Attenuation कहते है। इस चीज़ को दूर करने के लिए इंटरनेट के रस्ते में कुछ devices का यूज़ किया जाता है Signal को बढ़ने के लिए और इस चीज़ को amplification कहा जाता है।   
  

Internet का मालिक कौन है ?

Owner of the Internet

वैसेतो इंटरनेट का कोई मालिक नहीं है लेकिन इंटरनेट को ISP(Internet Service Providers)  द्वारा संभाला जाता है। ISP's तीन tier में बाटी हुई होती है। पहले tier की ISP optical fiber को ocean में बिछाती है। दुसरे tier की ISP internet को पुरे nation में provide करती है। और तीसरी tier की ISP इंटरनेट को local level पर provide करती है। 

Tier 2 की ISP को Tier 1 की ISP को पैसा देना पड़ता है। Tier 3 की ISP को Tier 2 की ISP को पैसा देना पड़ता है। और जोभी पैसे tier 1 की ISP को मिलता है वो पैसा company के data center को दिया जाता है। 

FAQ 

1. Mobile में Internet कैसे चलता है ?

Mobile में इंटरनेट टावर द्वारा चलता है  जो optical fibre द्वारा connect हुआ होता है। Tower द्वारा waves को छोड़ा जाता है जो मोबाइल तक पहुँचता है। जिससे आप इंटरनेट का इस्तेमाल कर पाते है।  


2. Mobile का इंटरनेट Broadband इंटरनेट से महंगा क्यों ?

क्युकी मोबाइल में इंटरनेट टावर द्वारा चलता है और companies को उस टावर से निकलते spectrum का ज्यादा पैसा देना होता है इसलिए मोबाइल का इंटरनेट महंगा होता है। उस्सी दुरसी तरफ Broadband connection में wire का इस्तेमाल किया जाता है जो एक cheaper mode है internet की service को provide करने का।


3. क्या Broadband Connection Unlimited होता है ?

इसका आसान जवाब है नहीं। क्युकी आप broadband connection को एक सिमित Mbps तक चला सकते है।  इसीलिए वो लिमिटेड होता है। इस चीज़ को आप इस तरह समज सकते है की अगर आपको कोई चीज़ डाउनलोड करना है तो आपको एक सिमित speed मिलेगी जिसपर आप उस चीज़ को डाउनलोड कर सकते है। तो ब्रॉडबैंड कनेक्शन limited होता है।    

आशा करता हु आपको यह आर्टिकल Internet कैसे काम करता है ? Internet Kya In Hindi ? पसंद आया होगा। अगर आपको कोई भी query है internet से related तो आप मुझे comment कर सकते है

SAQUIB SHAIKH
SAQUIB SHAIKH
My name is Saquib Shaikh and I am a Technology enthusiast. I like to write about everything from smartphones to tech gadgets.

Related Posts

Post a Comment